Related Articles

One Comment

  1. Kamal Kumar Lakhera

    पुलिस चाहती है कि जनता उसे टारगेट ना करे, लेकिन जनता का भरोसा टूटा क्यों इस बात का मंथन नहीं करना चाहती । परिपाटी अनुसार पुलिस अपराधी, आरोपी के साथ खड़ी दिखती है ना कि पीड़ित के साथ । अपनी छवि सुधारने की जिम्मेदारी पुलिस की है ना कि जनता की । जबतक विश्वास कायम नहीं होगा, संदेह के घेरे में तो रहोगे ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

2019©Kafal Tree. All rights reserved.
Developed by Kafal Tree Foundation