Related Articles

One Comment

  1. Kamal Kumar Lakhera

    भ्रष्ट नेताओं और अधिकारियों का गठजोड़ यदि सूक्ष्मदर्शी यंत्र से अवलोकन करने की इच्छाशक्ति, हिम्मत और उत्तराखंड से लगाव है तो ” विधानसभा में पिछले दरवाजे से हुई नियुक्तियों ” पर करें, उत्तराखंड में 22 साल से मचे गंद को स्पष्ट देखा जा सकता है । लेकिन कोई माई का लाल इस भारतवर्ष में है नहीं, जो ये बीड़ा उठा सके । अतः जलते उत्तराखंड में अपने हाथ तापिए और उसमें हिस्सेदारी नहीं मिलती तो मेरी तरह भड़ास निकालिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

2019©Kafal Tree. All rights reserved.
Developed by Kafal Tree Foundation