Related Articles

2 Comments

  1. रक्षित

    जोशी जी ऐसा वैसा कुछ नहीं होने वाला जैसी आपकी आशंकाएं हैं। अगर घर मे रहेंगे तो कोई नहीं निकाल कर मारने वाला लेकिन बाहर निकल कर पत्थरबाजी गोली बाजी करेंगे तो अल्लाह को प्यारे होने में कोई शक नहीं वहां 72 हूरें उनका इन्तजार कर रही है।

    जहर का तो इलाज जहर ही है। कश्मीरी छात्रों को इतना भोला भी न समझे जहां पढ़ाई करते है वहां रहने वाले लोगों से इनके बारे में जानकारी हासिल कर लें । वो पढ़ाई कम और देश विरोधी नारेबाजी , हुड़दंग, पाकिस्तान परस्ती नारे लगा कर आसमान सिर पर उठाए रहते हैं।

    इनके साथ वैसा कुछ नही होने वाला जैसा कश्मीरी पंडितों के साथ हुआ। वैसे आप पंडित ही हो या उसके भेष में कुछ और?

  2. Rofed

    Kashmiri bachhe jo ghar se dur h o baat ni kr paare h krke to aapne bataya bt jo log waha ki suraksha m lage h o ghar m baat ni kr paare h…jo kashmir ki suraksha krte krte na jane kb shahid ho gye….unke bare m v bata dete to behtar hota…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

2019 Kafal Tree. All rights reserved. | Developed by Kafal Tree Team