Related Articles

5 Comments

  1. राघव

    गलत समीक्षा कर रहे हैं ।

  2. मनोज भट्ट

    सत्ता की चारनभाट….पढ़ कर दकियानूसी ‘तेजतर्रार’ पत्रकार की बुद्धि औऱ मानसिकता पर हंसी आई। शब्दों की चाशनी में डुबाकर, हर कलम की दलाली करने वाला आज पत्रकार है और सोचता यह है कि मिडिल क्लास बौद्धिक अपंगता से ग्रस्त है और वही उसका तारण धार है।
    पत्रकार का काम केवल सूचना देना है अपना ज्ञान नही। पर जो काम बरखा दत्त, रवीश कुमार जैसे लेफ्टिस्ट लिबरल ने शुरू किया उसी के उत्तर में राइटिस्ट अर्नब और सुधीर ने भी अपनी दुकान चला दी है। सो काफल ट्री का पाठक सब समझता है, और राजनीति की खिचड़ी यहां नही वहाँ ही पकाओ। अन्यथा हमे ही विदा लेनी होगी

  3. बी डी शर्मा

    पोस्ट करने वाले की अपनी राय होगी हमारी अपनी राय है और हम उस ऐंकर के साथ हैं बी जे पी के साथ हैं.

  4. प्रताप सिंह

    गलत तरीके से प्रस्तुत करके इनके द्वारा भी चरण बंदना का ही काम किया जा रहा है। क्या दिल्ली का विधान सभा चुनाव CAA/NPR/NRC का पोल था?

  5. Tarun bisht

    Bahut kam patrakar hain aap jaise, jo such bolne – likhne ka sahas rakhte hain…. ??

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

2019 Kafal Tree. All rights reserved. | Developed by Kafal Tree Team