Related Articles

6 Comments

  1. राघव

    राजस्व निरीक्षक के बयान से लगता है कि काफलट्री द्वारा फर्जी खबर प्रचारित की जा रही है । ग्राम प्रधान के कम्प्यूटराइज्ड शिकायती पत्र से भी प्रकट होता है कि फर्जीवाड़ा कर सामाजिक माहौल को खराब करने की कोशिश की जा रही है । पुलिस को ऐसे लोगों के खिलाफ कठोर कार्यवाही करनी चाहिए ।

  2. गोपेन्द्र

    कुछ भी करते रहो सामाजिक माहौल खराब करने का भी आरोप इन्हीं पर, राजस्व निरीक्षक भी उसी कैटागिरी का है स्पोर्ट तो करेगा। सूचना सूचना होती हैं चाहें किसी माध्यम से मिलें ना कि लिखित ही जरूरी हैं।

  3. Sanjay

    दो लोगों ने ऐसा किया तो पूरी जाति के साथ उसको जोड़ना ठीक नहीं है, सनसनीखेज टाइटल बना kafal tree की मानसिकता संदिग्ध प्रतीत होती है।

    किसी को भी घर का खाना मिले तो, वह बाहर का क्यों खाएगा? आजकल के माहौल में तो और भी ज्यादा।

  4. नकुल पंत

    प्रधान के लैटर हेड में राष्ट्रीय ध्वज की बेअदबी के लिए प्रिवेंशन ऑफ इंसल्ट्स टू नेशनल आनर्स एक्ट 1971 में 2002 ‘फ्लैग कोड ऑफ इंडिया’ के तहत छह महीने से दो साल तक की सजा और 5,000 रुपए का जुर्माने का प्रावधान है।
    इस विषय पर भी एक स्टोरी बननी चाहिये।

  5. NANDAN SINGH

    Why my comments is not visible yet

  6. Madhu Sudan Juyal

    I totally agreed with the post share of Mr Raghav.
    An investigation may be conducted and if the Pradhan is found to destroy the harmony in the society, he must be punished.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

2019 Kafal Tree. All rights reserved. | Developed by Kafal Tree Team